Naresh arts- Art gallery
17
Followers
22
Posts
2
Following

Naresh arts- Art gallery

profession icon   Building Supplies · 15 Years map iconUjjain, Madhya Pradesh

Services Provided

नरेश आर्ट्स (आर्ट गैलरी) - लगभग 65 वर्ष पहले उज्जैन शहर के सबसे प्राचीन गोपाल मंदिर क्षेत्र में सुप्रसिद्ध चित्रकार पिता स्व. श्री नगजीराम जी बाछंग ने "नरेश आर्ट्स" के नाम से चित्रकला के क्षेत्र में अपना कार्य प्रारंभ किया था, बाल्यावस्था से ही रंगों को जीवन का हिस्सा बनाने वाले श्री नगजीराम जी ने लगभग 14, 15 वर्ष की उम्र में ही हाथों में ब्रश थाम लिया और अपनी कल्पनाओ मैं प्रकृति के रंग भरना शुरू कर दिए थे, यह सिलसिला अंतिम सांस तक चलता रहा, आज भी उनके हाथों की कई पेंटिंग्स शहर के अनेक देवालयों व बंगलो में सुशोभित है! 81 वर्ष की उम्र में 21 जून 2016 को दुनिया को अलविदा करने वाले श्री बाछंग जी ने यह कला जीवित रहे इसके लिए अपने परिवार में कला का बीज रोपित कर गए! सन 1995 में मैंने पिता के आशीर्वाद से एम. एस. यूनिवर्सिटी बड़ौदा से फाईन आर्ट्स करने के बाद स्विफ्ट एडवरटाइजिंग एजेंसी इंदौर से अपना कार्य प्रारंभ किया, यहां राहुल जैन साहब के साथ रह कर काफी अच्छा अनुभव प्राप्त किया, लेकिन अपना करने की चाहत ने मुझे नौकरी छोड़ने पर मजबूर कर दिया! सन 2009 में ब्लूलाइन डिजाइन स्टूडियो के नाम से इंदौर में अपना ऑफिस शुरू किया जहां कई बड़ी-बड़ी कार्पोरेट कंपनीयों के साथ काम करने का अवसर प्राप्त हुआ! लेकिन पापा के जाने के बाद नरेश आर्ट्स जो बंद होने की कगार पर था उसे अपने भाइयों के साथ मिलकर फिर से पुनर्जीवित किया, जिसने आज एक आर्ट गैलरी का रुप ले लिया है! हम चाहते है इस कला को इतनी आसानी से खत्म नहीं होने दें जो हमें पिता से विरासत में मिली, हांलाकि यह कला धीरे-धीरे लुप्त होती जा रही है, जो लोग मार्डन आर्ट के पिछे भाग रहे हैं, उनसे विनती है कि रियलिस्टिक को समझे उसका आनंद लें व अपनी यादों में संजोये, क्योंकि यादें अमुल्य है! इस कला को हमने अपनी मेहनत व लगन से शौक में परिवर्तित किया जिसकी टैगलाइन है "शौक जगाओ, शौक बिन जीवन अधूरा"! आज नरेश आर्ट्स (आर्ट गैलरी) इंटीरियर आर्टिस्ट के रूप में कार्यरत है जो अपने इंटीरियर डिजाइनर साथियों खासकर सुश्री अश्विनी मेम इन्दौर की मदद से हम बड़े-बड़े बंगलों में अपनी कलाकृति लगा रहे हैं, जिसके हम आपके बहुत आभारी हैं! हम शौकीयां लोगों के लिए गिफ्ट आर्टिकल के रूप में पेंटिंग बना रहे हैं, जिससे लोगों में इसकी चाहत बढ़ रही हैं, यह गिफ्ट उनके लिए अनमोल हो गई! हम इस आर्ट को देश के बड़े-बड़े शहरों व दुबई तक चार्टर्ड बस एवं कोरियर द्वारा आसानी से भेज रहे है! आप सभी कलाप्रेमीयों से आग्रह है भारतीय चित्रकला को कभी दुसरी कला से कम ना आंके, उसे दिलों में संजोये, हमें हमेशा आपके आशीष और सहयोग की कामना रहेगी! धन्यवाद् अशोक बाछंग नरेश आर्ट्स, गोपाल मंदिर उज्जैन ब्लूलाइन डिजाइन स्टुडियो, इंदौर मो. +91 98275 05533, 98270 60688 ईमेल blueline.advt@gmail.com www.bluelineindia.in

about me iconAbout

नरेश आर्ट्स (आर्ट गैलरी) - लगभग 65 वर्ष पहले उज्जैन शहर के सबसे प्राचीन गोपाल मंदिर क्षेत्र में सुप्रसिद्ध चित्रकार पिता स्व. श्री नगजीराम जी बाछंग ने "नरेश आर्ट्स" के नाम से चित्रकला के क्षेत्र में अपना कार्य प्रारंभ किया था, बाल्यावस्था से ही रंगों को जीवन का हिस्सा बनाने वाले श्री नगजीराम जी ने लगभग 14, 15 वर्ष की उम्र में ही हाथों में ब्रश थाम लिया और अपनी कल्पनाओ मैं प्रकृति के रंग भरना शुरू कर दिए थे, यह सिलसिला अंतिम सांस तक चलता रहा, आज भी उनके हाथों की कई पेंटिंग्स शहर के अनेक देवालयों व बंगलो में सुशोभित है! 81 वर्ष की उम्र में 21 जून 2016 को दुनिया को अलविदा करने वाले श्री बाछंग जी ने यह कला जीवित रहे इसके लिए अपने परिवार में कला का बीज रोपित कर गए! सन 1995 में मैंने पिता के आशीर्वाद से एम. एस. यूनिवर्सिटी बड़ौदा से फाईन आर्ट्स करने के बाद स्विफ्ट एडवरटाइजिंग एजेंसी इंदौर से अपना कार्य प्रारंभ किया, यहां राहुल जैन साहब के साथ रह कर काफी अच्छा अनुभव प्राप्त किया, लेकिन अपना करने की चाहत ने मुझे नौकरी छोड़ने पर मजबूर कर दिया! सन 2009 में ब्लूलाइन डिजाइन स्टूडियो के नाम से इंदौर में अपना ऑफिस शुरू किया जहां कई बड़ी-बड़ी कार्पोरेट कंपनीयों के साथ काम करने का अवसर प्राप्त हुआ! लेकिन पापा के जाने के बाद नरेश आर्ट्स जो बंद होने की कगार पर था उसे अपने भाइयों के साथ मिलकर फिर से पुनर्जीवित किया, जिसने आज एक आर्ट गैलरी का रुप ले लिया है! हम चाहते है इस कला को इतनी आसानी से खत्म नहीं होने दें जो हमें पिता से विरासत में मिली, हांलाकि यह कला धीरे-धीरे लुप्त होती जा रही है, जो लोग मार्डन आर्ट के पिछे भाग रहे हैं, उनसे विनती है कि रियलिस्टिक को समझे उसका आनंद लें व अपनी यादों में संजोये, क्योंकि यादें अमुल्य है! इस कला को हमने अपनी मेहनत व लगन से शौक में परिवर्तित किया जिसकी टैगलाइन है "शौक जगाओ, शौक बिन जीवन अधूरा"! आज नरेश आर्ट्स (आर्ट गैलरी) इंटीरियर आर्टिस्ट के रूप में कार्यरत है जो अपने इंटीरियर डिजाइनर साथियों खासकर सुश्री अश्विनी मेम इन्दौर की मदद से हम बड़े-बड़े बंगलों में अपनी कलाकृति लगा रहे हैं, जिसके हम आपके बहुत आभारी हैं! हम शौकीयां लोगों के लिए गिफ्ट आर्टिकल के रूप में पेंटिंग बना रहे हैं, जिससे लोगों में इसकी चाहत बढ़ रही हैं, यह गिफ्ट उनके लिए अनमोल हो गई! हम इस आर्ट को देश के बड़े-बड़े शहरों व दुबई तक चार्टर्ड बस एवं कोरियर द्वारा आसानी से भेज रहे है! आप सभी कलाप्रेमीयों से आग्रह है भारतीय चित्रकला को कभी दुसरी कला से कम ना आंके, उसे दिलों में संजोये, हमें हमेशा आपके आशीष और सहयोग की कामना रहेगी! धन्यवाद् अशोक बाछंग नरेश आर्ट्स, गोपाल मंदिर उज्जैन ब्लूलाइन डिजाइन स्टुडियो, इंदौर मो. +91 98275 05533, 98270 60688 ईमेल blueline.advt@gmail.com www.bluelineindia.in

workplace iconCompany

Self-Employed

address iconAddress

11, Kamari marg, Nr Gopal mandir, Ujjain. MP

Pincode

456006

languages iconLanguages I Speak

English